त्यौहारों पर शांति एवं कानून व्यवस्था के संबंध में बैठक लेते हुए दिए निर्देश जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल

त्यौहारों पर शांति एवं कानून व्यवस्था के संबंध में बैठक लेते हुए दिए निर्देश जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल

मथुरा,14 अक्टूबर 2021 (यू.टी.एन.)। जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल की अध्यक्षता में कलेक्टेट सभागार में आगामी त्यौहारों के अवसर पर शांति एवं कानून व्यवस्था के संबंध में बैठक लेते हुए निर्देश दिये कि समस्त उप जिलाधिकारी, क्षेत्राधिकारी पुलिस, लेखपाल, बीट कान्स्टेबल, थानाध्यक्ष किसानों से संवाद स्थापित करें और भीड़ इकठ्ठा न होने दें। संवेदशील स्थान पर पर्याप्त सुरक्षा बल लगाया जाये। दुर्गा पूजा/नवरात्रि के धार्मिक कार्यक्रमों को देखते हुए जनपद में पुलिस बल को मोबाइल से संपर्क करते रहें और अपने-अपने क्षेत्रों का भ्रमण भी करते रहें। श्री चहल ने नगर निगम के अधिकारियों को निर्देश दिये कि बाजारों में स्थापित दुकानों के सामने एक रेड लाइन बना कर वाहन खड़ा करवाये और अनावश्यक किसी भी वाहन को रोड़ पर खड़ा न होने दें तथा एन्उासंमेंट के माध्यम लोगों को जागरूक करें। उन्होंने कहा कि पहले समझाये, यदि कोई नहीं मानता है, तो उसके विरूद्ध जुर्माना लगाये। उन्होंने कहा कि अवैध पार्किंगों पर अंकुश लगाया जाये।


जिलाधिकारी ने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि त्यौहारों से पहले सभी खम्बों का सर्वे कर लिया जाये, जिन खम्बों से प्लास्टिक हट गयी है, उन पर तत्काल प्रभाव से प्लास्टिक चढ़ाई जाये और क्षेत्र में निर्बाध आपूर्ति की जाये। सभी परिक्रमा मार्गों पर लाईटें ठीक हों। इसी क्रम में जल निगम के अधिकारियों को निर्देश दिये कि शहर में पानी की समुचित सप्लाई बनी रहे तथा नालों की साफ-सफाई एवं एन्टीलारवा का छिड़काव होता रहे। श्री चहल ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि सभी सड़कों को चिन्हित कर उन्हें गढ्ढामुक्त किया जाये और आवश्यकता पड़ने पर सड़क की मरम्मत भी की जाये। खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि लगातार छापे मारते रहें और खराब फूड मिलने पर तत्काल कार्यवाही की जाये। उन्होंने नगर मजिस्टेªट से कहा कि त्यौहारों के पर्व पर शहर में सिविल डिफेंस का सहयोग लिया जाये और यातायात व्यवस्था को सुचारू रखने में उनकी मदद ली जाये। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि सार्वजनिक स्थानों पर एम्बुलेंस की व्यवस्था रखें।

कोई भी बीमारी संबंधी सूचना मिलती है, तो तत्काल एम्बुलेंस भेजकर उस मरीज को नजदीकी चिकित्सा केन्द्र पर भर्ती करायें। उन्होंने नगर निगम, नगर पालिका तथा नगर पंचायत के अधिकारियों को निर्देश दिये कि आवारा गौवंश को गौशाला में पहुॅचायें और उनके चारे एवं इलाज सहित देखभाल की जाये।बैठक में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ0 गौरव ग्रोवर ने सभी एसपी, उप जिलाधिकारी, क्षेत्राधिकारी एवं थानाध्यक्ष संयुक्त रूप से प्रतिदिन पैदल गस्त करते रहें तथा लोगों से संवाद भी करें। उन्होंने कहा कि यदि शहर में किसी भी बाइक पर 03 लोग सवार हैं, तो उसकी गाड़ी सीज कर आवश्यक कार्यवाही की जाये तथा ई-रिक्शा को अनावश्यक सड़कों पर खड़ा न रहने दें। बैठक में एसपी नगर एमपी सिंह, नगर मजिस्टेट जवाहर लाल श्रीवास्तव, सभी उप जिलाधिकारी तथा क्षेत्राधिकारी, नगर निगम, लोक निर्माण, सिंचाई, जल निगम, खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन सहित गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।