एक कदम बढ़ाते ही चली गई जान नींद में टॉयलेट का गेट समझकर खोल दिया ट्रेन का एग्जिट डोर

एक कदम बढ़ाते ही चली गई जान नींद में टॉयलेट का गेट समझकर खोल दिया ट्रेन का एग्जिट डोर

केरल,13 अक्टूबर 2021 (यू.टी.एन.)। कोट्टयम में 10 साल के एक बच्चे ने चलती ट्रेन में टॉयलेट का दरवाजा समझकर एग्जिट डोर खोल दियाबच्चा चलती ट्रेन से गिर गया था और मृत मिला। माना जा रहा है कि टॉयलेट का गेट समझकर मेन डोर खोलने से उसके साथ यह हादसा हो गया। मलप्पुरम के मामबाडु के रहने वाले सिद्दीकी के बेटे मोहम्मद इशान के साथ यह हादसा रात को 12:30 बजे के करीब हुआ। यह हादसा उस वक्त हुआ, जब सिद्दीकी का परिवार तिरुअनंतपुरम से मलप्पुरम वापस आ रहा था। उनका बेटा रात को टॉयलेट जाने के लिए उठा और शायद गलती से उसने एग्जिट डोर खोल दिया और आगे बढ़ गया। 

परिवार के सदस्यों ने कहा कि उन्हें जैसे ही लगा कि बेटा गिर गया है तो उन्होंने चेन खींचकर ट्रेन को रुकवाया। लेकिन बच्चे को बचाया नहीं जा सका और वह पटरियों के पास मिला। ट्रेन रुकवाने के बाद आसपास बसे लोगों की मदद से बच्चे को तलाश करने की कोशिश की गई। कुछ देर में वह मिला तो उसे तत्काल अस्पताल ले जाया गया, लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। रेल यात्रा के दौरान हुआ यह भीषण और दर्दनाक हादसा डराने वाला है।