पेटीएम पेमेंट्स बैंक ने लॉन्‍च की भारत की पहली फ़ास्टटैग-बेस्‍ड मेट्रो पार्किंग सुविधा,देश में पार्किंग स्थलों के डिजिटलीकरण में सबसे आगे 

पेटीएम पेमेंट्स बैंक ने लॉन्‍च की भारत की पहली फ़ास्टटैग-बेस्‍ड मेट्रो पार्किंग सुविधा,देश में पार्किंग स्थलों के डिजिटलीकरण में सबसे आगे 
नई दिल्ली, 14 सितंबर 2021 (यू.टी.एन.)। भारत के स्वदेशी पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड (पीपीबीएल) ने दिल्‍ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) के साथ साझेदारी में देश की पहली फ़ास्टटैग-बेस्‍ड मेट्रो पार्किंग सुविधा का शुभारंभ करने की घोषणा की है. कश्मीरी गेट मेट्रो स्टेशन पर पार्किंग सुविधा के लिए अधिग्रहण बैंक के रूप में, पीपीबीएल वैध फ़ास्टटैग स्टिकर वाली कारों  के लिए सभी फ़ास्टटैग-बेस्‍ड ट्रांजैक्शन की प्रोसेसिंग को बढ़ावा देगा और इस तरह काउंटर पर रुकने और भुगतान करने की परेशानी समाप्त हो जायेगी। इसके अलावा, पेटीएम पेमेंट्स बैंक ने पार्किंग स्थल में प्रवेश करने वाले 2-व्हीलर्स के लिए यूपीआइ-बेस्‍ड भुगतान समाधान सक्षम किया है, जिससे पार्किंग स्थल में सम्पूर्ण पार्किंग भुगतान डिजिटलीकृत हो जाएगा। पीपीबीएल द्वारा संचालित फ़ास्टटैग सिस्टम के कार्यान्वयन की बदौलत कार मालिकों को अब नकद देने की ज़रुरत नहीं है। और पार्किंग शुल्क सीधे सम्बंधित व्हीकल के फ़ास्टटैग से सम्बद्ध वालेट से काट लिया जाता है। टू-व्हीलर्स के मालिक भी मेट्रो स्टेशन पर एक सरल यूपीआइ भुगतान के जरिए अपना पार्किंग शुल्क अदा कर सकते हैं। यह सुविधा मेट्रो स्टेशन के गेट नंबर 6 पर उपलब्ध है। और यहाँ 174 टू-व्हीलर और 55 फोर-व्हीलर्स के लिए पार्किंग की व्यवस्था है।
मंगू सिंह, एमडी, डीएमआरसी ने कहा कि, “मौजूदा समय में कॉन्‍टैक्‍टलेस लेन-देन की पद्धति समय की माँग है. ऐसी स्थिति में अपने ग्राहकों को समाधान मुहैया करने के लिए डीएमआरसी द्वारा डिजिटलीकरण की दिशा में यह एक और कदम है। कश्मीरी गेट मेट्रो स्टेशन पीपीबीएल के डिजिटल भुगतान समाधान द्वारा संचालित होने पहला मेट्रो स्टेशन है। और इसके बाद पीपीबीएल पूरे देश में पार्किंग सुविधाओं को डिजिटाइज़ करेगा। बैंक विभिन्न राज्यों में संगठित और असंगठित दोनों स्थल पर फ़ास्टटैग-बेस्‍ड पार्किंग सुविधायें आरम्भ करने के लिए विभिन्न नगर निगमों के साथ मिलकर काम कर रहा है। बैंक शॉपिंग मॉल, अस्पतालों और हवाईअड्डों पर पार्किंग क्षेत्र के लिए डिजिटल भुगतान समाधान लागू करने के  लिए भी विभिन्न हितधारकों के साथ बात कर रहा है। पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड के एमडी और सीईओ, सतीश गुप्ता ने कहा कि, “हम अपने देश में फ़ास्टटैग नेटवर्क का विस्तार करने और अपने यूजर्स को बाधा रहित और परेशानी से मुक्त यात्रा के साथ सशक्त करने के लिए प्रयास करते रहे हैं। इस दिशा में हम दिल्‍ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन के पार्किंग स्थलों में डिजिटल भुगतान समाधान सक्रिय करने के लिए उनके साथ साझेदारी करके काफी उत्‍साहित हैं। हम पूरे देश में फ़ास्टटैग सिस्टम कार्यान्वित कर एक सुरक्षित और कॉन्‍टैक्‍टलेस भुगतान समाधान अपनाने के लिए दूसरे पार्किंग प्रदाताओं के साथ काम करना जारी रखेंगे। 
पेटीएम पेमेंट्स बैंक पहले ही से भारत में नैशनल इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन ( एनईटीसी ) प्रोग्राम के लिए फ़ास्टटैग का सबसे बड़ा जारीकर्ता और टोल प्लाज़ा का सबसे बड़ा अधिग्रहणकर्ता है। पीपीबीएल फ़ास्टटैग  देश की सबसे पसंदीदा टोल पेमेंट पद्धति बन गई है। क्योंकि इससे यूजर्स को सीधे अपने पेटीएम वॉलेट से भुगतान करने की सुविधा होगी। यूजर्स को अपना फ़ास्टटैग इस्तेमाल और रिचार्ज करने के लिए अलग से कोई अकाउंट बनाने की ज़रुरत नहीं है। जारी करने की प्रक्रिया त्वरित, आसान और सुविधाजनक है और इसके लिए बहुत ज्यादा दस्तावेजों या अलग लॉग इन सत्यापन की ज़रुरत नहीं होती है. दूसरे बैंकों के टैग्स को ऐक्टिवेट करने में कुछ घंटों का समय लग सकता है, लेकिन इसके विपरीत पीपीबीएल फ़ास्टटैग यूजर द्वारा प्राप्त होने के समय ही तत्काल ऐक्टिवेट हो जाता है। सभी फ़ास्टटैग ट्रांजैक्शंस को पेटीएम ऐप पर ही मॉनिटर किया जा सकता है।