कालका में की 3 नुक्कड़ सभाएं, काफी युवा कांग्रेस में हुए शामिल

कालका में की 3 नुक्कड़ सभाएं, काफी युवा कांग्रेस में हुए शामिल
कालका, 13 सितंबर 2021 (यू.टी.एन.)। विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस पार्टी के विधायक प्रदीप चौधरी ने कालका शहर में तीन नुक्कड़ जनसभाएं कर लोगों से मिलकर अपनी बात रखी और विधायक प्रदीप चौधरी ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आज भाजपा के राज में लोग गंभीर समस्याओं से पीड़ित हैं। लेकिन सरकार उन्हें कोई राहत नहीं दे रही है। कालका ऐतिहासिक शहर है। जहां लोगों को पीने का पानी नसीब नहीं हो रहा और यहां तक कि स्ट्रीट लाइट खराब होने की वजह से शहर में अंधेरा छाया रहता है। लावारिस पशुओं को पकड़ने के लिए प्रशासन के पास कोई इंतजाम नहीं है। लोग लावारिस पशुओं के कारण चोटिल हो रहे हैं। प्रदीप चौधरी का कालका शहर में पहुंचने पर कार्यकर्ताओं औऱ स्थानीय लोगों ने पुरजोर स्वागत किया और अपनी समस्याएं भी विधायक के समक्ष रखीं। विधायक प्रदीप चौधरी ने लोगों की समस्याओं को लेकर अधिकारियों से फोन पर बात कर समाधान निकालने के लिए भी कहा।  प्रदीप चौधरी ने हंडिया मोहल्ला, ब्रॉडगेज मोहल्ला और ररेलवे रोड गुरुद्वारा के पास कार्यक्रम में शिरकत करते हुए अपनी बात कही। इस दौरान हंडिया मोहल्ला में दर्जनों युवाओं ने कांग्रेस पार्टी में अपनी आस्था जताई।
विधायक ने कांग्रेस में शामिल लोगों को विधिवत रूप से पार्टी में शामिल करते हुए कहा कि उन्हें पार्टी में पूरा मान-सम्मान दिया जाएगा। विधायक प्रदीप चौधरी ने अंत में कहा कि वह लोगों की समस्याओं के लिए अपनी तरफ से कोई कसर नहीं छोड़ेंगे और सरकार तक हर समस्या पहुंचाने का प्रयास किया जाएगा।  यदि जरूरत पड़ी तो वह समस्याओं को लेकर मुख्यमंत्री से भी मुलाकात करेंगे। ताकि समस्याओं का पूरी गंभीरता के साथ समाधान निकाला जा सके। आज आसमान छूती महंगाई की वजह से आर्थिक रूप से लोग परेशान है। कोरोना की वजह से लगातार कमाई के साधन सीमित हो चुके हैं। नौकरी पर तलवार लटक रही है नई नौकरी मिल नहीं रही। ऐसे में लोग करें तो क्या करें। सरकार को महंगाई पर कम से कम लगाम कसनी चाहिए। ताकि लोगों को कुछ तो राहत मिल सके। इस मौके पर एडवोकेट सुशील गर्ग, अजय सिंगला, पवन कुमारी, विजय बंसल, आरके वैध, मुकेश सोढ़ी, सुनील शाम, मास्टर कृष्ण, सतार चन्द, हरभजन सिंह, सुरेंद्र चौहान, हर्ष चड्डा, रामकरण चौधरी, महेश डोरा, गौतम भारद्वाज, प्रवीण शर्मा इत्यादि मौजूद थे। 
कालका- स्टेट ब्यूरो,(सचिन बराड़) |